सेक्सी ब्लू वीडियो पिक्चर

देवमाणूस अस्मिता देशमुख

देवमाणूस अस्मिता देशमुख, नीरज- वाह मेरी जान.. ऐसे गहरी नींद में सो रही हो.. यहाँ मेरा लौड़ा तेरी चूत को चोदने को बेताब हो रहा है उफ़.. तेरे ये कड़क चूचे.. पर साथ ही साथ उसका ध्यान गेम पर भी था...अब इतना तो उसे पता चल ही गया था की सामने से जब डबल चाल आए, इसका मतलब सामने वाले के पास भी बाड़िया पत्ते आए हैं...4 हज़ार की ब्लफ तो नही करेगा कोई...

आरती ने कहा हां ये ठीक रहेगा,तो रमण बोला कि ठीक है मैं 1 बजे आप को पिक अप कर लूँगा आप तैयार रहना,और कोई बढ़िया सी ड्रेस पहन कर रखना. गोल गुंबद के आकार की कसी हुई गांड, जिसे जीन्स में देखकर उसकी आहह निकल गयी थी, कुणाल से मात्र 2 फीट की दूरी पर थी...

मीरा- पापा हद हो गई.. यह क्या बात हुई.. इतनी सी बात के लिए आप रो पड़े.. ऐसे कैसे चलेगा पापा.. प्लीज़.. देवमाणूस अस्मिता देशमुख बलराम भैया के अश्लील बातों से मेरी शर्म जल्दी ही दूर हो गयी. उनकी भूखी नज़रें मेरे शरीर पर पड़ रही थी और मैं चुदास से सिहर रही थी. मैं सोचने लगी, हाय कब शुरु होगी दावत और मैं सब से चुदवा सकूंगी!

मासिक पाळी पुढे ढकलण्याच्या गोळ्या

  1. फिर रमण ने अपने होंठ पहले तो आरती के गालों पर रख दिए फिर वहाँ से हटा कर दूसरे गाल पर रख दिए और आरती के दोनो गालों की चूमि ले कर आरती को छोड़ दिया,आरती एकदम सकपका गयी,उसे उम्मीद नही थी कि रमण इतना आगे बढ़ कर उसको ऐसे ही छोड़ देगा.
  2. नीरज ने ब्रा निकाल दी.. अब रोमा के कड़क मम्मे आज़ाद हो गए थे.. जिन पर नीरज भूखे कुत्ते की तरह टूट पड़ा.. वो निप्पल को दाँतों से हल्का काटने लगा और साथ ही मम्मों को चूसता रहा जिससे एक मीठी टीस सी रोमा की चूत में उठने लगी.. वो चुदास से भर कर तड़पने लगी। मां बेटा की चुदाई की कहानी
  3. उसे तो पहले लगा की एक ही दिन मे लगातार दूसरी बार अपनी बहन के हाथो ऐसे पकड़े जाने के बाद वो पता नही उससे कभी नज़रें भी मिला पाएगा या नही...पर रश्मी का दोस्ताना व्यवहार देखकर उसमे भी थोड़ी बहुत हिम्मत आ गयी. मेने एक बार सबकी तरफ देखा तो सब हाँ में सर हिला रहे थे,इसलिए मेने खुद से सॉरी बोला और अपने दाँत उसके हाथ में गढ़ा दिए,..!
  4. देवमाणूस अस्मिता देशमुख...मीरा- अरे मेरे आशिक.. वहाँ पापा पैसे लाने के लिए जाते हैं.. उनका अपना काम्प्लेक्स है.. जो पापा ने किसी दोस्त को चलाने दिया है.. हर महीने वहाँ जाते हैं और कुछ दिन वहाँ रुक कर आते हैं.. कई बार मैं भी उनके साथ वहाँ गई हूँ। सो अंदर आते ही मोनू शुरू हो गया : दीदी ....अब आपके कहने पर ही में आज घर पर आकर खेल रहा हू...थोड़ा बहुत शोर शराबा हुआ तो आप बुरा मत मानना ..''
  5. मोनू फँस चुका था...वो सोचने लगा की अगर उसे ये बात पता है तो उसके सामने झूठ बोलने का कोई फायदा नही है.. अब राधे ने शीला को घोड़ी बनाया और लौड़ा चूत में पेल दिया.. घपा-घप वो शीला को चोदने लगा। वो भी गाण्ड हिला-हिला कर चुदने लगी.. वो अजीब-अजीब सी आवाजें निकालने लगी और निकालेगी भी ना.. आख़िर यही तो उसका पैसा है.. वो तो ऐसे ही लोगों को खुश करती है।

बीएफ एचडी वीडियो इंग्लिश

ममता- बीबी जी ना ना.. साहेब जी.. मैं गरीब जरूर हूँ.. बेईमान नहीं.. लालची नहीं हूँ.. मुझे बस आप इस उलझन से आज़ाद कर दो.. यह माजरा क्या है?

मे: और कुछ नही कहते….चूत तो हिन्दी मे कहते है….जैसे हमारे पंजाब मे चूत को फुद्दी कहते है….वैसे तुम्हारी भाषा मे क्या कहते है… शाम को 7 बजे के आस पास रश्मी भी आ गयी..मोनू ने दरवाजा खोला तो दोनों के चेहरों पर एक अलग ही स्माइल थी ...मोनू का तो मन कर रहा था की वहीं के वहीं उसके गले लग जाए..पर वो पहले ये यकीन भी कर लेना चाहता था की कल वाली बात से वो नाराज़ तो नही है.

देवमाणूस अस्मिता देशमुख,मे: वो बता तो रहा हूँ….दोस्त के यहाँ चला गया था….वही पर टाइम लग गया था…..इससलिए मैने खाना वही खा लिया…..

मीरा- आह्ह.. आई.. चोदो राजा.. आह्ह.. मचा दो धूम.. आह्ह.. मेरी चूत को आज फाड़ दो.. आज ये मीरा आह्ह.. अपने राधे की हो गई अइ.. आह।

मोनू ने अब ऐसी बात बोली जिसे सुनकर लाला की तो बाँछे ही खिल उठी...और रिशू और राजू की रही सही मुस्कान भी जाती रही ..बीएफ चुदाई वाली वीडियो

मै उससे शादी नही कर रहा हूँ, जीजाजी. अमोल बोला, वह तो ऐसी उबाऊ लड़की है कि मुझे भी अपनी चूत नही देगी. अब वो टॉपलेस होकर बैठी थी लाला के सामने...अपने मुम्मो के नीचे हाथ रखकर उसने अपने दोनों कंधारी अनार लाला की भुखी आँखों के सामने फ्रूट बास्केट की तरह परोस दिए

जय ने कार हाइवे की तरफ दौड़ा ली तभी मेने साइड-व्यू मिरर में देखा एक आदमी को जिसका सर चमक रहा था और मेने अपना सर कार की विंडो निकाल के देखा तो वहाँ कोई नही था..!

मोनू अचानक से बोला : एक काम करते हैं, मैं भी इस छोटे वाले ग्रुप में खेलता हूँ ...और गुड्डू तुम भी आ जाओ यहीं पर, तुम भी अपना हाथ आजमाओ...'',देवमाणूस अस्मिता देशमुख मीरा- हाय तेरी इस अदा पर मैं मार जाऊँ.. मेरे आशिक.. और पागल तो मैं पहले दिन ही हो गई थी.. जब तुमने मेरे अनछुए जिस्म को टच किया था.. बस उस दिन तुम्हें अपनी बहन समझ कर अपने जिस्म को चटवाया था.. अब पति बन कर चाट लो..

News